independence day

15 august क्यू मनाया जाता है ?

स्वतन्त्रता दिवस(Independence Day) एक वार्षिक उत्सव है इस दिन भारत ने अँग्रेजी शासन से स्वतंत्रता(आजादी) मिला था l यह हमारे लिए एक ऐतिहासिक दिन है l वर्षो तक अंग्रजी शासन के खिलाफ लड़ने के बाद भारत आधिकारिक रूप से आजाद हुआ | भारतीय इसे हर वर्ष 15 अगस्त को  एक उतस्व की  तरह मानते है,

स्वतन्त्रता दिवस(Independence Day) इतिहास

भारत पर कई सालो तक अंग्रजों का कब्जा (शासन) रहा था l लगभग 100 वर्षो से जादा भारत पर ईस्ट इंडिया कंपनी का शासन रहा था l 1757 मे भारत ने प्लासी की लड़ाई जीत ली और भारत ने अपने सत्ता पर कब्जा करना सुरू किया l 1757 में भारत में यह विदेशी शासन के खिलाफ पहला विद्रोह था जिसमें लगभग पूरा देश अंग्रेजों के खिलाफ एकजुट हो गया था। दुर्भाग्य से, भारत हार गया, लेकिन उसके बाद ब्रिटिश शासक ने भारत के ताज को सौंप दिया जिससे भारत पर शासन किया गया था । यह एक लंबे अभियान के बाद ही स्ंभो हो पाया था और दिवतीय विश्व युद्धों के बाद अँग्रेजी शासक को कमजोर होने लगा था आखिरकार भारत को स्वतंत्रता मिली थी।

भारत के स्वतंत्रता संग्राम ने दुनिया को प्रेरित करते हैl क्योंकि यह दुनिया का सबसे एतिहासिक अभियान था। स्वतंत्रता आंदोलन का नेतृत्व करने वाले नेताओं को न केवल भारत में, बल्कि पूरे विश्व में श्रद्धा के साथ याद किया जाता है।

भारतीय स्वतंत्रता 15 अगस्त 1947 को आधी रात को मिली। हमारे पहले प्रधान मंत्री, जवाहरलाल नेहरू ने एक सुंदर शब्द बोला था जो इस प्रकार है, “आधी रात के समय, जब दुनिया सो जाएगी, भारत जीवन और स्वतंत्रता के लिए जाग जाएगा।”

भारतीय स्वतंत्रता दिवस

आज भारत को स्वतंत्र हुए 73 साल हो गए हैं।

हर साल हम स्वतंत्रता दिवस मनाते हैं, ताकि यह प्रतिबिंबित हो सके कि हमारे देश ने आजादी हासिल करने के लिए क्या क्या कदम उठाने पड़े थे और। इस दिन हम झंडा फहराते है और राष्ट्रगान गाया जाता
लोग अपने राष्ट्र और संस्कृति को मनाने का प्रयास करते हैं। जिसमें सभी उम्र के लोग भागीदारी लेते हैं जोकी हमें मिली आजादी का प्रतिनिधित्व करते हैं।

हमारे प्रधानमंत्री लाल किले में झंडा फहराने वाले समारोह में हिस्सा लेते है और सशस्त्र बलों और पुलिस के सदस्यों द्वारा परेड प्रदरसन किए जाते है । प्रधानमंत्री  भाषण देते हैं, जो की पिछले वर्ष के दौरान देश की उपलब्धिया होती हैं और भविष्य के लिए कुछ देशों के लक्ष्यों को रेखांकित करते हैं।

“ धन्यवाद “

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *